New sad shayari in hindi 2020 - sad hindi shayari nowshayari.in 2020 - nowshayari.in
  • Breaking News

    Tuesday, 7 January 2020

    New sad shayari in hindi 2020 - sad hindi shayari nowshayari.in 2020

    New sad shayari in hindi 2020 - sad hindi shayari - nowshayari

    Best shayari in hindi latest hindi shayari 2020





    आँखों में आँसू लेके होठों से मुस्कुराये,
    हम जैसे जी रहे हैं कोई जी के तो बताए

             ***

    जब जब तुमसे मिलने की उम्मीद नजर आई, तब तब मेरे पैरों में ज़ंजीर नजर आई, निकल पड़े इन आँखों से हजारों आँसू, हर आँसू में आपकी तस्वीर नजर आई।

           ***

    प्यास इतनी है मेरी रूह की गहराई में,
    अश्क गिरता है तो दामन को जला देता है।

           ***



    उसका अक्स दिल में इस कदर बसा है,
    बरसों आँसू बहे मगर तसवीर न धुली।

           ***

    * Love Shayari In Hindi *


    ये तो अच्छा है कि आँसू बे रंग हुआ करते है,
    वरना रातों को भीगे तकिये सारे राज़ खोल देते।

           ***

    ये तो अच्छा है कि आँसू बे रंग हुआ करते है,
    वरना रातों को भीगे तकिये सारे राज़ खोल देते।

           ***

    सच कहूँ तो मुझे एहसान बुरा लगता है,
    जुल्म सहता हुआ इंसान बुरा लगता है,
    कितनी मसरुक हो गयी है ये दुनिया,
    एक दिन ठहरे तो मेहमान बुरा लगता है।

           ***



    मैने सब कुछ पाया है,
    बस तुझको पाना बाकी है,
    कुछ कमी नहीं जिंदगी में,
    बस तेरा आना बाकी है।

           ***

    मेरे ख़त में जो भीगी भीगी सी लिखावट है,
    स्याही में थोड़ी सी मेरे अश्कों की मिलावट है।

           ***

    अमल से भी माँगा वफ़ा से भी माँगा,
    तुझे मैंने तेरी रज़ा से भी माँगा,
    न कुछ हो सका तो दुआ से भी माँगा,
    कसम है खुदा की खुदा से भी माँगा।

           ***

    रो लेते हैं कभी कभी,
    ताकि आंसुओं को भी...
    कोई शिकायत ना रहे।

           ***

    * Attitude Hindi Shayari *


    निकले हम दुनिया की,
                 भीड़ में तो पता चला,
    कि हर वो शख्स अकेला है...
           जो दूसरों पर भरोसा करता है।

           ***

    न जाने ये कैसी उम्मीद जगी है,
    न जाने कब उसने दिल पे दस्तक दे दी है,
    ऐ खुदा बस एक दुआ है तुझसे,
    अगर वो है मेरी सच्ची मोहब्बत,
    तो रहे हमेशा साथ मेरे...
    कुछ अपने दिल वो बताये,
    कुछ अपने दिल की हम सुनाएं,
    यूं ही साथ उमर कट जाए है आरज़ू यही कि...
    कभी जुदा न हम हों पाएं।

           ***

    Kabhi Hasa Dete Ho, Kabhi Rula Dete Ho...
    Kabhi Kabhi Neend, Se Jaga Dete Ho,
    Magar Jab Bhi Dil Se, Yaad Karte Ho,
    Kasam Se Zindagi Ka, Ek Pal Badha Dete Ho.





    No comments:

    Post a comment

    Please do not enter any spem links in the comment box

    Popular Posts

    Contact Form

    Name

    Email *

    Message *

    Follow by Email