Sad Shayari Quotes, Hindi New Shayari- - nowshayari.in
  • Breaking News

    Saturday, 14 September 2019

    Sad Shayari Quotes, Hindi New Shayari-




    गुजरे है हम जिन हालातो से,
    तुम होते तो गुजर ही गए होते।
    Guzre hai hum jin halaton se ,
    Tum hote to guzar hi gye hote.
    =============================
    न जाने क्या था, जो कहना था
    आज मिल के तुझे
    तुझे मिला था मगर, जाने क्या कहा मैंने
    वो एक बात जो सोची थी तुझसे कह दूंगा
    तुझे मिला तो लगा, वो भी कह चुका हूँ कभी
    जाने क्या, ना जाने क्या था
    जो कहना था आज मिल के तुझे
    कुछ ऐसी बातें जो तुझसे कही नहीं हैं मगर
    कुछ ऐसा लगता है तुझसे कभी कही होंगी
    तेरे ख़याल से गाफ़िल नहीं हूँ तेरी क़सम
    तेरे ख़यालों में कुछ भूल-भूल जाता हूँ
    जाने क्या, ना जाने क्या था जो कहना था
    आज मिल के तुझे जाने क्या...
    =============================
    मंजिल भी उसकी थी, रास्ता भी उसका था,
    एक मैं ही अकेला था,
    'बाकि सारा काफिला भी उसका था,
    एक साथ चलने की सोच भी उसकी थी
    और बाद में रास्ता बदलने का फैसला भी उसी का था

    =============================
    सारे वहम तेरे अपने है,
    हम कहां तुझे भुल पाएंगे।
    Sare vham tere apne he,
    Hum kaha tuje bhula payege..!
    =============================
    अजीब है ना यह रिश्तेए,
    पहले हर दिल की बात किया करते थे,
    और आज बात कहने के लिए
    status रखना पडता है.
    Ajib he na yeh riste,
    Pahle har Dil ki bat kiya karte the.
    Or aaj bat khne ke liye status rkhna padta he.
    =============================
    कुछ इस तरह वो नाराज़ है हमसे,
    जैसे उन्हें किसी और ने मना लिया हो।
    Kuch is trah vo naraj he humse,
    Jese unhe kishi or ne mna liya ho..
    =============================
    जिन्दगी ऐसी ही है
    कभी मौके मिलते है
    और कभी धोखे
    Jindgi aeshi hi he,
    Kabhi moke milte he...
    Or Kabhi dhokhe..!😔
    =============================
    अगर आप उस इसान
    की तलाश कर रहे हैं जो
    आपकी ज़िन्दगी बदलेगा
    तो आईने में देख लें
    Agar aap us insan ki, 
    tlash Kar rahe he Jo,
    Apki jindgi badlega,
    To aine me dekh le...!
    =============================
    इश्क़ का बस अब नाम बाकी है,
    खाली बोतलें और जाम बाकी है!
    दर्द जो मिला तुम्हें ये तो बस शुरुआत है
    चाहत का अभी अंजाम बाकी है।
    Ishq ka bas ab nam Baki he,
    Khali botle or jam Baki he...
    Dard jo mila tumhe ye to bas shuruat he,
    Chaht ka abhi anjam baki he..!
    =============================
    प्यार तो उन्हें भी हुआ था,
    बस हमको थोड़ा ज्यादा और
    उन्हें ज़रा कम हुआ था।
    Pyar to unhe bhi hua tha,
    Bas hmko thoda jyada or 
    Unhe jra km hua tha.

    =============================
    मेरा तो हर ख़्याल तुझसे ही शुरू होता हैं
    मगर सोचती हूँ मैं कभी- कभी..
    क्या तेरे ख्यालों में भी मेरा कभी जिक्र होता हैं।
    Mera to har kyal tujise hi suru hota he,
    Magr sochti hu me kabhi-kabhi...
    Kya tere kyalo me bhi mera kabhi jikr hota he...

    =============================
    वादा करो हमसे, 
    रूठ कर दूर चले जाओगे
    जब कोई नाम लेगा हमारा, 
    तो बात नहीं बनाओगे
    न झूठ कहोगे न वफ़ा निभाओगे..
    बस मुस्कुरा के, 
    बात बदल कर चले जाओगे।


    ============================
    क्यों दूर हैं तू मुझसे इस तरह
    बाते भी नही करता अब बेवजह
    बस पूछना था तुझसे एक सवाल..
    क्या अब भी इश्क़ करता है मुझसे बेपनाह ?
    Kyo dur he tu mujse es tarah,
    Bate bhi nahi karta ab bevjah..
    Bas puchna tha tujse ek sval...
    Kya ab bhi ishq karta he mujse bepnah...!
    ============================
    बिछड कर फिर मिलेंगे, यकीन कितना था
    बेशक ख्वाब ही था मगर हसीन कितना था।
    Bichhd Kar fir milenge, 
    Yakin Kitna tha...
    Beshk kvab hi tha mgar hsin Kitna tha.
    =============================
    एक ही इश्क़ में कर लिया हमने
    तजुर्बा पूरी जिंदगी का,
    चोट नई भी लगती है..
    तो दर्द वही पुराना होता है।
    Ek hi ishq me kar liya humne,
    Tjurba puri jindgi ka.
    Chot nai bhi lagti he...
    To dard vahi Purana hota he.
    =============================
    मेरी गुस्ताखियों को हँस कर टाल देता हैं
    वो शख़्स मुझे हर गम से निकाल देता हैं।
    Meri gustakhiyo ko has kar tal deta he,
    Vo saksh muje har gum se nikal deta he.
    =============================

    दूर कभी हुआ न हमसे
    मग़र पास भी कभी आया न वो
    हाँ दिल नही तोड़ा उसने मेरा..
    मगर ऐसा नही की कभी दुखाया न हो।
    Dur kabhi hua n hmse 
    Mgar pas bhi kabhi aya n vo
    Ha dil nahi toda usne mera...
    Mgar aesha nahi ki kabhi dukhaya n ho.
    =============================
    न इश्क़ था न ही ऐतबार था कोई
    हम तो यूँही उन्हें हमसफ़र बना बैठे..
    सफर तो था ही नही कोई।
    N ishq tha na hi aetbar tha koi,
    Hum to yuhi unhe humsafr Bana Bethe...
    Safar to tha hi nahi koi. 
    =============================
    तुम्हारे शहर का मौसम बड़ा सुहाना लगे
    एक शाम चुरा लूँ अगर बुरा न लगे
    तुम्हारे बस में हो अगर तो भूल जाओ मुझे..
    तुम्हें भुलाने में शायद मुझे ज़माना लगे।
    =============================
    मैं जब सो जाऊँ,
           इन आँखों पे अपने होंट रख देना
    यकीं आ जाएगा, 
           पलकों तले भी दिल धड़कता है।
    Me jab so jau,
      en ankho pe hoth rkh dena.
    Ykin aa jayega, 
    palko tale bhi dil dhdkta he.
    =============================
    दरवाजे पर सिर्फ दस्तक देकर चली गयी
    शायद मुस्कान गलत पते पर आ गई थी।
    Darvaje par sirf,
               dstak dekar chli gai,
    Shayd muskan,
           Galt pate par aa gai thi.
    =============================
    ऐ इश्क़..
    एक बात कहूँ, बुरा तो नही मानेगा
    ज़िन्दगी काफी अच्छी थी तुझसे पहले।
    =============================
    ज़रूरी नही हर रिश्ता प्यार का ही हो
    कुछ सिर्फ मतलब के भी होते हैं।
    Jaruri nahi har rista pyar ka ho,
    Kuch sirf matlab ke bhi hote he.
    =============================
    सुना हैं,जो माँगो दुआओं में वो रब देता हैं
    शर्त बस ये हैं कि दुआ में इश्क़ न माँगना।
    Suna he,
       jo mango duao me vo rab deta he.
    Shart bas ye he,
     Ki duaa me ishq n mangna.!
    =============================
    दूर कभी हुआ न हमसे
    मग़र पास भी कभी आया न वो
    हाँ दिल नही तोड़ा उसने मेरा..
    मगर ऐसा नही की कभी दुखाया न हो।
    Dur kabhi hua n hamse,
    Magr pas bhi kabhi aya n vo..
    Ha dil nahi toda usne mera...
    Magar aesa nahi ki kabhi dukhaya na ho..!
    =============================
    जब ज़िन्दगी डूबने के लिए छोड़ देती हैं
    तब वक़्त तैरना सिखा ही देता हैं।
    Jab jindgi dubne ke liye chhod deti he,
    Tab vkht terna shikha hi deti he...
    =============================
    पानी मे तैरना का सिख लीजिये जनाब
    आँखों मे डूबने का अंजाम बुरा होता हैं।
    Pani me terne ka shikh lijiye jnab,
    Ankho me dubne ka anjam bura hota he...
    =============================
    दर्द यूँही कम नही ज़हन में
    तुम ईलाज-ऐ-इश्क़ पूछते हो..
    एक अरसा हुआ खुदसे मिले हुए भी
    और तुम हमारा हाल पूछते हो।
    Dard yuhi Kam nahi jahn me
    Tum elaj ae ishq puchte ho...
    Aek arsha hua khudse mile huae bhi,
    Or tum hmara hal puchte ho...
    =============================
     इश्क़ से भी खूबसूरत हैं,
    चाँद से ज्यादा प्यारा हैं
    नज़र न लगाओ ऐ दुनिया वालो उसको..
    वो दिलकश मेहबूब हमारा हैं।
    =============================
    तेरे एहसासों का सैलाब लेकर आया हूँ
    न जाने कहा हैं वो
    जिसे ढूंढता मैं यहाँ तक चला आया हूँ।
    Tere aehshaso ka selab lekr aaya hu,
    Na Jane kaha he vo...
    Jise dhundhta me yha tak chla aya hu...!
    =============================
     उसने दर्द भी ऐसा दिया हैं कि
     कम्भख्त उस दर्द के बिना
     हमारा गुज़र भी मुश्किल हैं।
    Usne dard bhi aesa diya he ki,
    Kambakht us dard ke bina,
    Hamara gujar bhi muskil he..!
    =============================
    मत समझना इतना आसान नही हैं
    मैं संस्कृत का अर्थातः हूं, कोई गणित का सूत्र नही।
    Mat smjna itna aasan nahi he,
    Me snskrut ka arthant hu,
    Koi ganit ka shutr nahi..!
    =============================
     ये इश्क़ का सफर भी कितना अजीब होता हैं
      उम्र भर का दर्द दे जाता हैं
      सिर्फ दो पल की खुशी के लिए।
    Ye ishq ha Safar bhi Kitna ajib hota he,
    Umr bhar ka dard de jata he..
    Sirf do pal ki khushi ke liye...!
    =============================
    ज़िन्दगी तो खफ़ा ही थी हमसे
    अब मेहबूब भी रुख़सत सा लगता है,
    ऐ ख़ुदा तू ही एक है अपना यहाँ..
    बाकी तो सब अब बेगाना सा लगता हैं।
     Jindgi to khfa hi thi humse
    Ab mehbub bhi rukhst sa lagta he,
    Ae khuda tu hi aek apna yha...
    Baki to sab ab begana sa lgta he..!
    ============================
     बरक़त के निवाले से थे हम
     आखिरी ही सही
     मगर सबसे लाजवाब थे हम।
    Barkat ke nivale se the hum,
    Aakhri hi Sahi
    Magar sabse lajvab the hum..!
    =============================
    जिस महफ़िल में तुमने हमारी
    मोहब्बत को बदनाम किया था
    सुना हैं आज उसी महफ़िल में
    तुम अपना प्यार ढूंढने जाया करते हो।
    His mehfil me Tumne hmari,
    Mohobat ko badnam Kiya tha..!
    Suna he aaj usi mehfil me,
    Tum apna pyar dhundh ne jaya karte ho...!
    ============================
     कभी-कभी हम भी बहक जाते हैं
     तेरी आँखों मे जब हम खुदको देख जाते हैं।
     तेरी आँखों मे जब हम खुदको देख जाते हैं।
    Kabhi Kabhi hum bhi bahk jate he,
    Teri ankho me hum khudko Dekh jate he...!
     =============================

    No comments:

    Post a comment

    Please do not enter any spem links in the comment box

    Popular Posts

    Contact Form

    Name

    Email *

    Message *

    Follow by Email