Broker Hindi Sad Shayari, Sad Shayari Hindi new updates- - nowshayari.in
  • Breaking News

    Friday, 13 September 2019

    Broker Hindi Sad Shayari, Sad Shayari Hindi new updates-

                 Best of broken heart hindi shayari. all hindi sad shayari lovers all new updates for new shayari. please read and enjoy your sadness mood. Mostly shayari and quotes hindi and english both languages.



               New Sad Hindi Shayari all categories are available in this site best and new shayari collection for you. 





    उनके सामने नज़र भी न उठी,
    सच भरी हमारी शरम हो गई।
    Unke samne najar bhi na udhi,
    Sach bhri hmari sharm ho gai...
    =============================
    मिले हमको वो, जो किस्मत में नहीं,
    फिर भी जिंदगी रब का करम हो गई।
    चाही थी मौत औ मिली हैं साँसें,
    जिंदगी भी लगे बेशरम हो गई।
    Mile humko vo, Jo kismat me nahi,
    Fir bhi jindgi rab ka karm ho gai.
    Chahi thi mot or Mili he sanse,
    Jindgi bhi lage beshrm ho gai..!
    =============================
    फिज़ा भी मेरे लिए मौसम-ए-बहार हुआ,
    जब से बरबाद बहारों में ये शुमार हुआ..!
    Fija bhi mere liye,
               mosm ae bhar huaa...
    Jab se barabr bharo me,
                        ye sumar hua..!
    =============================
    ज़िन्दगी खुद से दूर नज़र होती आयी मुझको,
    जब कभी अपनी ज़िन्दगी से प्यार हुआ..!
    अपनी तबाही का शिकवा ना किया हमने,
    लेकिन ये तमाशा आज सरे बाजार हुआ।।
                                    ✍ संदीप सिंह ।
     Jindgi khud se dur najar Hoti aayi mujko,
    Jab Kabhi Apni jindgi se pyar huaa..
    Apni tbahi ka shikva na kiya humne,
    Lekin ye tmasha aaj srebajar huaa!
    =============================
    मिला था तुमसे जब, कुछ खास ना था ।
    आज बिन तुम्हारे कुछ खास नहीं रहा ।।
    😑😑😑😑😑😑😑😑😑
    Mila tha tumse jab,
                Kuch khas na tha..!
    Aaj bin tumhare,
                Kuch khas nahi rha..!
    =============================
    देखता हूं जब तुम्हें
    बस....
         एक ख्याल आता है,
    ऐसा भी था कोई,
    बिना जिसके दिल की आरजू ना थे ।
    और ....
    आज देखो...क्या से क्या हो गए।
    =============================
    😥😥😥😥😥😥😥😥😥😥😥😥
    सुनता था आवाज तुम्हारी जब जब मैं,
    मिलता था दिल को सुकून सा ।
    हर बार मैं पूछता हूं दिल से ,
    आज मैं पूछता हूं तुमसे भी 
    क्यों..... क्यों मन नहीं करता ।
    सुनने उन बातों को है 😢😢
    =============================
    बातें तुम्हारी वो प्यार भरी सी ,
    कहती थी मुझसे बात नई ।
    पूछता हूं हर बार में दिल को ,
    पूछता हूं आज तुमसे भी ,
    क्यों ....क्यों मन नहीं करता 
    कहने उन बातों को ।
    =============================
    था मैं जब 11th में ,
    थे कोसों दूर ,
    फिर भी था लगाव कितना ।
    कुछ झूठी सी कुछ सच्ची सी ,
    बातों मैं...
    =============================
    बहलाता  था मन मेरा ।
    नहीं छुपाता था तुमसे ,
    कोई जीवन की बात मेरी ,
    थे तो तुम भी मेरे ..... 
    =============================

    क्या रहा नहीं वह बीच हमारे ??
    हुआ करता था जो कभी बीच हमारे ...
    भूलू कैसे तुम्हें..... 
    =============================
    जरिया जो हो तुम जीने का 
    मैं कह नहीं सकता ....
    मैं बयां नहीं कर सकता, 
    क्या हो तुम मेरे लिए ।
    =============================
    लगते तुम मुझे कितने बुरे ,
    इतने बुरे की बयां नहीं कर सकता।
    होता क्यों है जग में ऐसा ...
    पहला पाया जो दूजा खोया ,
    =============================
     
    पूछता हूं हर बार मैं दिल से ,
    आज पूछता हूं तुमसे भी ,
    रह गई थी क्या कमी हम से ...☺️☺️
    जुदा से हो रहे जो आपसे ।
    😢😢😢😢😢😢😢
    =============================

    😑😑😑😥😥😥
    एक वही तो थी जिसकी आँखों में आँखे डालकर कह सकता था .... तुम सिर्फ मेरी हो ।👍

    =============================

     

    No comments:

    Post a comment

    Please do not enter any spem links in the comment box

    Popular Posts

    Contact Form

    Name

    Email *

    Message *

    Follow by Email